Crime Uttarakhand

उत्तराखंड की युवती ने जिसके लिए घर और धर्म छोड़ा, उसी ने 6 साल लिव-इन में रख कर कर दी हत्या

Spread the love

नवीन समाचार, नई दिल्ली, 30 अप्रैल 2023। जी हां, उत्तराखंड की एक 25 वर्षीय युवती ने अपना घर व धर्म छोड़कर दूसरे धर्म के युवक पर अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया, वह शातिर निकला। उसने 6 साल तक युवती को लिव-इन में रखकर भोगने के बाद उसकी हत्या कर दी। यही नहीं उसके शव को 19 किलोमीटर दूर ले जाकर फेंक दिया। 

इस काम में उसके भाई व बहन ने भी साथ दिया। पुलिस ने युवती के लिव-इन पार्टनर मुख्य आरोपित विनीत पंवार सहित सभी हत्यारोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। हत्या करने में आरोपित के भाई, उसकी बहन और बहन के दोस्त ने भी साथ दिया था। आरोपी पिछले साल नवंबर में ही पैरोल पर बाहर आया था।

मामला उत्तर-पूर्वी दिल्ली के करावल नगर इलाके का है। पुलिस को गत 12 अप्रैल की रात को करावल नगर क्षेत्र के शिव विहार इलाके के महालक्ष्मी विहार में एक युवती का शव बरामद किया था। युवती के शरीर पर चोट के निशान नहीं थे। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया तो पता चला कि उसकी गला घोंटकर हत्या की गई थी।

पुलिस को युवती की पहचान मिराजपुर, उत्तराखंड की रहने वाली 25 वर्षीय रोहिना नाज उर्फ माही के रूप में हुई थी। बागपत के ककड़ीपुर के रहने वाले विनीत पंवार ने बहन पारुल उर्फ चिंकी, भाई मोहित और बहन के दोस्त इरफान के साथ हत्या कर शव को ठिकाने लगा दिया था। पुलिस ने बताया कि 12 अप्रैल को विनीत ने युवती का गला दबाया था, जबकि विनीत के भाई मनीष ने पैर पकड़े थे। हत्या के बाद शव को कई घंटे बेड में छिपा दिया था, फिर शव को ठिकाने लगाया।

पुलिस ने बताया कि विनीत और माही करीब 6 वर्ष तक लिव-इन में रहे थे। आरोपित विनीत 2017 में बागपत में हत्या के मामले में भी शामिल रहा है। वह नवंबर 2022 में पैरोल पर बाहर आया था। इस आधार पर करावल नगर थाना पुलिस ने 15 अप्रैल को हत्या का मामला दर्ज कर पारुल उर्फ चिंकी, मोहित और इरफान को गिरफ्तार कर लिया था। लेकिन मुख्य आरोपित विनीत लगातार पुलिस को चकमा दे रहा था। एक सूचना के बाद क्राइम ब्रांच की टीम ने आरोपित को उत्तर-पूर्वी दिल्ली के लोनी गोल चक्कर से दबोच लिया।

पूछताछ के दौरान विनीत ने बताया कि चार वर्ष पहले वह माही को उत्तराखंड में मिला था। बाद में दोस्ती हो गई। विनीत और माही दिल्ली के फर्श बाजार में रहने लगे। पूछताछ में पता चला कि माही विनीत पर शादी का दबाव बना रही थी, लेकिन विनीत के परिवार का कोई भी सदस्य इसके लिए तैयार नहीं था। ऐसे में 12 अप्रैल को माही की हत्या कर दी गई। बाद में विनीत व इरफान ने शव को बाइक पर फर्श बाजार से करावल नगर इलाके में ठिकाने लगा दिया।

यह भी पढ़ें :

(Uttarakhand’s girl for whom she left home and religion, kept her in live-in for 6 years and killed her, uttaraakhand kee yuvatee ne jisake lie ghar aur dharm chhoda, usee ne 6 saal liv-in mein rakh kar kar dee hatya)

Leave a Reply